Connect with us

बेरोजगारी लेख

मुंबई में भारी बारिश से हाई अलर्ट हुआ जारी, कई रूट किए गए डायवर्ट

Published

on

दिल्ली में लोग बारिश के लिए परेशान है, तो वहीं मुंबई में बारिश ने इस तरह अपना कहर बरपा रखा है कि लोगों का जीना भी दूभर हो गया है। यहां मंगलवार रात से मूसलाधार बारिश शुरू हुई, जो बुधवार सुबह भी जारी है, जिसके कारण शहर के कई इलाकों में पानी भर गया। इन सबको देखते हुए मौसम विभाग ने अगले दो दिन के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। बारिश का कहर इस तरह छाया हुआ है कि कुछ जगहों पर हादसों की खबर भी है। यहां बारिश के अंधेरे के चलते तीन गाड़ियां आपस में भिड़ गई, जिस कारण इस घटना में 8 लोग घायल हो गए।

मंगलवार से ही यहां इतनी बारिश हो रही है कि हिंदमाता इलाके में जलभराव हो गया। लोगों को घुटने तक पानी से गुजरकर जाना पड़ रहा है। बारिश से सड़कों पर तो पानी भरा ही है, यहां तक की रेलवे ट्रैक भी पानी में डूब गए हैं। दहीसार, किंग्स सर्क और चैंबूर इलाकों में भी पानी से बुरा हाल है। इसी बीच भारत मौसम विभाग ने मुंबई में भारी बारिश की चेतावनी जारी करते हुए मंगलवार को कहा कि चक्रवात की स्थिति के कारण शहर में अगले दो दिन भारी बारिश होगी।

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि मुंबई की तुलना में महाराष्ट्र के रायगढ़ और रत्नागिरी जिलों में छिटपुट जगहों पर बुधवार और बृहस्पतिवार को अत्याधिक भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। मौसम विभाग का कहना है कि मुंबई के पास चक्रवात की स्थिति बन रही है, जिससे शहर में भारी बारिश होगी। शहर में बीते दो-तीन दिनों में कहीं बारिश नहीं हुई लेकिन हालात बदल रहे हैं। आने वाले दिनों में और बारिश होगी।

जलभराव इतना हो गया है कि कई रूट डायवर्ट किए गए है, तो वहीं वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे, ईस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे और लाल बहादुर शास्त्री मार्ग पर ट्रैफिक बाधित है। बता दें इस साल जून से अब तक 2,272 मिमी के औसत के मुकाबले 1,315.7 मिमी यानी 57% बारिश हुई है।

Politics

पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का निधन, दिल का दौरा पड़ने से एम्स में थी भर्ती

Published

on

sushma swaraj

पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का एम्स में इलाज के दौरान निधन हो गया है। हार्ट अटैक के बाद दिल्ली के एम्स में उन्हें भर्ती कराया गया था।

अचानक तबीयत खराब होने के बाद उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। जहां उनकी हालत बेहद नाजुक बनी हुई थी। उन्हें रात 10 बजकर 20 मिनट पर एम्स लाया गया और तत्काल इमर्जेंसी वार्ड में लाय गया। डॉक्टरों की एक टीम उनकी स्थिति पर लगातार निगरानी बनाए हुए थी, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका।

67 वर्ष की उम्र में वह इस दुनिया को छोड़कर चली गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी एम्स में मौजूद हैं। सुषमा स्वराज के निधन के बाद बड़े नेताओं का एम्स आना शुरू हो गया है। अभी अस्पताल में सुषमा स्वराज के पति और परिवार के अन्य सदस्य भी मौजूद है।

बता दें कुछ घंटों पहले ही उन्होंने ट्वीटर पर प्रधानमंत्री मोदी को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने पर बधाई दी थी।

बता दें उनकी तबीयत काफी पहले से खराब थी। 10 दिसंबर 2016 को एम्स में ही उनकी किडनी का ट्रांसप्लांट किया गया था। बीमारी के चलते ही उन्होंने 2019 लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा था। 2014 में सुषमा स्वराज को विदेश मंत्रालय का प्रभार मिला था। बीजेपी के शासन के दौरान सुषमा स्वराज दिल्ली की मुख्यमंत्री भी रही थी।

Continue Reading

Politics

अमरनाथ यात्रियों को वायुसेना सी 17 विमान करेगी एयरलिफ्ट

Published

on

अमरनाथ

अमरनाथ यात्रा रोके जाने के बाद कश्मीर में फंसे यात्रियों और पर्यटकों को वायुसेना के सी-17 ग्लोबमास्टर विमान से एयरलिफ्ट किया जाएगा। जम्मू-कश्मीर सरकार ने भारतीय वायु सेना से यात्रियों और पर्यटकों को सुरक्षित स्थान पर छोड़ने की अपील की है।

सरकार की अपील पर वायुसेना घाटी से यात्रियों के एयरलिफ्ट करेगी। सरकारी सूत्रों ने बताया कि यात्रियों को लाने के लिए पहला ग्लोब मास्टर रवाना हो चुका है। इस विमान में एक बार में 230 लोगों को एयरलिफ्ट किया जा सकता है। सी-17 ग्लोबमास्टर विमान से यात्रियों को एयरलिफ्ट कर जम्मू, पठानकोट या दिल्ली तक लाया जाएगा।

शुक्रवार को ही घाटी में जारी की गई एडवाइडरी के बाद से ही अमरनाथ यात्रियों, पर्यटकों और कश्मीर में पढ़ रहे बाहरी छात्र-छात्राओं को यहां से रवाना करने का सिलसिला जारी है। किश्तवाड़ के डिप्टी कमिश्नर अंगरेज सिंह राणा ने बताया कि शनिवार को सुरक्षा कारणों से जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में 43 दिन तक चलने वाली माछिल माता यात्रा भी स्थगित कर दी गई। श्रद्धालुओं से यात्रा न करने की अपील भी की गई है। साथ ही जो यात्रा पर निकल गए है, उनसे वापस आने के लिए कहा गया है।

भारत सरकार ने घाटी के मौजूदा हालातों को देखते हुए भारतीय सेना और वायु सेना को बुधवार को हाई अलर्ट पर रहने को कहा था। वहीं 28 हजार अतिरिक्त जवान घाटी में तैनात किए जा रहे हैं। अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती पर गृह मंत्रालय ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में अर्द्धसैन्य बलों की तैनाती आंतरिक सुरक्षा स्थिति के आकलन की आवश्यकताओं के आधार पर की गई है।

सूत्रों ने बताया कि जवान गुरुवार सुबह से घाटी में पहुंचने लगे हैं। राज्य के अलग-अलग इलाकों में उन्हें तैनाती दी जा रही है। बता दें जम्मू-कश्मीर में 10 हजार सुरक्षाबलों की तैनाती के हफ्ते भर के अंदर ही केंद्र सरकार द्वारा 28 हजार और जवानों को जम्मू-कश्मीर भेजा जा रहा है।

Continue Reading

Politics

उन्नाव केस में सुप्रीम कोर्ट ने कहा, ‘लखनऊ में ही होगा पीड़िता का इलाज’

Published

on

उन्नाव केस

उन्नाव केस में आए दिन कुछ न कुछ नया मोड़ देखने को मिल रहा है। अब सुप्रीम कोर्ट ने इस केस में लगातार दूसरे दिन सुनवाई करते हुए रेप पीड़िता का लखनऊ के ही अस्पताल में इलाज जारी रखने का निर्देश दिया है। हालांकि कुछ दिन पहले ही सुप्रीम कोर्ट ने पीड़िता को दिल्ली एम्स एयरलिफ्ट करने की बात कही थी। लेकिन अब पीड़िता के ट्रांसफर को लेकर कोर्ट ने कोई आदेश नहीं दिया। कोर्ट ने साफ कहा है कि ‘अभी लखनऊ में ही इलाज होने दें और अगर जरूरत पड़ती है, तो पीड़िता की तरफ से रजिस्ट्री आकर ट्रांसफर के लिए कहा जा सकता है। कोर्ट के ऐसा कहने से साफ हो गया है कि पीड़िता को एयरलिफ्ट कर दिल्ली नहीं लाया जाएगा’।

बता दें कोर्ट को पीड़िता की मां ने कहा था कि वह अपनी बेटी का इलाज लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज में ही जारी रखना चाहती हैं। वह उसे उपचार के लिए दिल्ली शिफ्ट नहीं करना चाहती हैं। हो सकता है कि कोर्ट ने पीड़िता की मां की बातों पर ही पीड़िता को शिफ्ट न करने का आदेश दिया है। जिसके बाद कोर्ट का यह भी कहा कि सुरक्षा के मुद्देनजर पीड़िता के चाचा को रायबरेली से दिल्ली के तिहाड़ जेल में फॉरेन शिफ्ट किया जाए।

जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने मीडिया से पीड़िता की पहचान छुपाने को कहा हैं। सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया कि उन्नाव केस की रिपोर्टिंग करते समय मीडिया इस बात को ध्यान रखे कि पीड़िता की पहचान प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से उजागर न हो। कोर्ट ने सुनवाई की अगली तारीख सोमवार को दी है।

शुक्रवार को सुनवाई के दौरान यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को जानकारी दी कि 25 लाख रुपये का अंतरिम मुआवजा रेप पीड़िता को सौंप दिया गया है।
बता दें कि पिछले रविवार को ट्रक और कार की भिड़ंत हो गई थी। गंभीर रूप से घायल होने के बाद लखनऊ के अस्पताल में रेप पीड़िता को भर्ती किया गया, जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। लेकिन उसे अब भी जीवन रक्षक उपकरणों पर रखा गया है।

Continue Reading

Trending